भारत यात्रा

‘’भारत यात्रा’’ या ‘’इंडिया मार्च’’ अभियान की शुरुआत नोबेल शांति पुरस्‍कार से सम्‍मानित मशहूर बाल अधिकार कार्यकर्ता श्री कैलाश सत्यार्थी द्वारा 11 सितंबर, 2017 को कन्‍याकुमारी से की गई थी। दुनिया के सबसे बड़े युवा केंद्रित इस अभियान का उद्देश्‍य ‘’सुरक्षित बचपन, सुरक्षित भारत’’ बनाना था। भारत का अब तक का सबसे बड़ा जन-जागरुकता अभियान था यह और 23 राज्‍यों से गुजरते हुए लगभग 11,000 किलोमीटर की दूरी इस यात्रा के जरिए तय की गई थी। बाल यौन शोषण और ट्रैफिकिंग के खिलाफ तय की गई इस यात्रा में भारी संख्‍या में राजनेताओं, फिल्‍मी हस्तियों, कानून निर्माताओं, कॉरपोरेट नेताओं और धर्मगुरुओं की भागीदारी रही।

मात्र 35 दिनों के इस अभियान में देशभर के विभिन्‍न समूहों के 10 लाख से अधिक लोगों ने संकल्‍प लिया कि वे बच्‍चों को यौन शोषण से मुक्‍त कराएंगे। भारत यात्रा ‘’100 मिलियन फॉर 100 मिलियन’’ के तहत सम्‍पन्‍न किया गया और जिसने बाल यौन शोषण और ट्रैफिकिंग के खिलाफ 1 करोड़ लोगों को प्रेरित करने का काम किया।

100 मिलियन कैम्‍पेन फॉर 100 मिलियन

वर्ष 2016 में इस अभियान की शुरुआत की गई। यह अभियान 10 करोड़ युवाओं और बच्‍चों को बाल हिंसा के खिलाफ बोलने और कार्य करने को अभिप्रेरित करता है। अभियान का उद्देश्‍य बाल मित्र दुनिया का निर्माण करना है। यह 2019 में दुनियाभर के 60 से अधिक देशों में काम करेगा और अपने लिए 4 करोड़ समर्थकों को जुटाएगा।